रविवार को हुई भाजपा कोर ग्रुप की बैठक में मुख्यता चार विवादित विधायकों के मुद्दे पर चर्चा रही जिनमे सदस्यों ने विधायकों के खराब आचरण सम्बन्धी प्रकरणो की वजह से पार्टी और सरकार की छवि को हुए नुक्सान पर चिंता जाहिर की।

द्वारहाट विधायक महेश  नेगी पर लगे योन शोषण के आरोपों के बाद बीजेपी गंभीर है। विधायक महेश नेगी आज प्रांतीय नेतृत्व के समक्ष अपना पक्ष रखेंगे। कोर कमिटी के सदस्यों का मानना है की विधायक का पक्ष जान लिया जाए इसके बाद ही किसी निर्णय पर निर्णय लिया जाए ।

वहीँ अनुशासनहीनता के मामले में पार्टी से निष्कासित खानपुर विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन की वापसी मामले का पेंच फंसता दिखाई दे रहा है। प्रदेश अध्यक्ष बंसीधर भगत को चैंपियन मामले में निर्णय लेना है मगर शायद अभी वे इस मामले पर निर्णय न लें ,क्यूंकि एक धड़ा चैम्पियन के आचरण बदलाव के बाद उन्हें अभयदान देने के पक्ष में है तो वहीँ दूसरा धड़ा उन्हें पार्टी से बाहर रखने के पक्ष में।

सोशल मीडिया में राजयसभा सदस्य अनिल बलूनी की नाराजगी सम्बंधित ख़बरों के अनुसार चैंपियन की वापसी पर अभी अनिश्चितता की स्थिति बनी हुई है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here